दृष्टिबाधितों के लिए कार्यशालाएँ

TBRAN Hindi    20-Jun-2019

 
 
संस्था का मुख्यलक्ष्य दृष्टिबाधितोंशिक्षा एवं प्रशिक्षण के साथअपने पैरों पर खड़े होने में औरआत्म-सम्मान सेजीवनयापन करने के लिए सक्षम बनाना है | इसीउद्देश्य के साथसंस्था ने दृष्टिबाधितों के लिए एक कार्यशाला का निर्माण किया । ’सीमाओं के बावजूद, विभिन्न परियोजनाएँ जिन्हें नेत्रहीन
चुनौती दे सकते हैं और जो उन्हें पुनर्वास कर सकती हैं, कार्यशाला में चल रही हैं। वर्तमान में उन्हें सिलाई, मालिश, कागज़ की प्लेट बनाने, बेंत का काम करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कार्यशाला में 50 ऐसे नेत्रहीन छात्र प्रशिक्षण ले रहे हैं। कार्यशाला में दाखिला लेने के लिए किसी विशिष्ट शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं है, लेकिनआपकीआयु१८ से ३५ वर्ष के बीच होनीचाहिए। प्रशिक्षण की अवधि २से ४ साल की है । कई बारछात्र अपनी शिक्षा को आगे बढ़ाते हुए साथ-साथ इस प्रशिक्षण का लाभ लेते हैं | प्रशिक्षण के बाद संस्था दृष्टिहीन रूप से विकलांग छात्रों को अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए आर्थिक रूप से सहायता भी करती है। ऐसे कई दृष्टिहीनछात्रों को सिलाई मशीन और दूसरा साहित्य दिया गया है, ताकि वे अपने दम पर खड़े हो सकें। छात्रों को नवीनतम कंप्यूटर प्रौद्योगिकी में भी शिक्षित किया जाता है।